हाथी पर निबंध | Elephant Essay in Hindi

आज में आपको हाथी पर निबंध के बारे में कहना चाहूगा। में उम्मीद करता हु की आपको ये हाथी पर निबंध जरूर पसंद आएगा। अगर आपको ये हाथी पर निबंध पसंद आए तो आप एक बार camel essay in hindi इसे भी पढ़े।

हाथी पर निबंध (Elephant Essay in Hindi)

हाथी-पर-निबंध-Elephant-Essay-in-Hindi

हाथी पृथ्वी पर मौजूद विशाल जानवरों में से एक है। हाथी को ताकतवर जानवर भी माना जाता है। आमतौर पर, यह एक जंगली जानवर है हालांकि यह उचित प्रशिक्षण के बाद चिड़िया घर में या मनुष्यों के साथ घर में एक पालतू जानवर के रुप में इसे पालते है। हाथी बहुत बड़े शरीरवाला प्राणी है। हाथी एक बड़ा और बुद्धिमान जानवर है। हाथी एक शाकाहारी प्राणी है। हाथी के चार पैर, दो कान, दो आँख, दो सूंड और एक छोटी पूँछ होती हैं।

हाथी की रचना

हाथी का रंग काला होता है। कई जगह सफेद हाथी भी पाए जाते है। हाथी एक खंभे की तरह दिखते हैं। इसके दो बड़े पंखे जैसे कान होते हैं। इसकी एक छोटी पूंछ होती है। हाथी का सबसे अनोखा अंग उसकी लंबी सूंड़ है। सूंड उसकी नाक भी है और हाथ भी। हाथी सूंड़ से पेड़ के पत्ते तोड़कर खाता है। यह आमतौर पर छोटी टहनियों, पत्तियों, भूसा, और जंगली फल खाते हैं हालांकि पालतू हाथी रोटी, केले, गन्ने आदि भी खाते हैं। गन्ना और मीठे फल हाथी को बहुत पसंद हैं।

आमतौर पर हाथी दो प्रकार के पाए जाते हैं, अफ्रीकी हाथी और एशियाई हाथी। अफ्रीकी हाथी (नर और मादा दोनों) एशियाई हाथियों की तुलना में काफी बड़े होते हैं। अफ्रीकी हाथी झुरीदार स्लेटी तत्व के साथ दो लम्बे दाँत और सूंड़ के अंत में दो छिद्र रखते हैं। भारतीय या एशियन हाथी निकली हुई पीठ के साथ सूंड़ के अंत में केवल छिद्र रखते हैं और अफ्रीकी हाथी की तुलना में बहुत ही छोटे होते हैं।

हाथी एक उपयोगी जानवर है। यह जंगल से बड़े लकड़ी को ले जाने में हमारी मदद करता है। इसका उपयोग शिकार और सवारी के लिए किया जाता है। हाथी एक पालतू जानवर भी होता है। पालतू हाथी सवारी के काम आता है। उससे बोझा ढोने का काम भी करवाया जाता है। पुराने जमाने में हाथी का लड़ाई में बहुत उपयोग होता था। हाथी की मृत्यु के बाद, उसके दांतों का उपयोग गहने, सजावट के टुकड़े और कई अन्य प्रयोजनों के लिए किया जाता है।

इनके रखवाले को ‘महावत’ कहा जाता है। जब यह चलता है तो यह काफी शाही लगता है। हाथियों को सर्कस में कई करतब करते देखा जा सकता है। उन्हें विवाह और धार्मिक जुलूसों में भी देखा जा सकता है। हाथी एक बुद्धिमान प्राणी है। हाथी का स्मरणशक्ति तेज होता है। हाथी काफी लंबे समय तक जीवित रहने वाली जानवर है, यह लगभग 50 से 100 वर्षों तक जीवित रहते हैं।

हाथी की विशेषता

हाथी की विशेषता है कि यह अपनी सूंड से पानी पीता है और भोजन करता है। हाथी अपनी सूंड में लगभग आठ से नौ लीटर तक पानी भरकर रख सकता है। हाथी एक बार में 350 किलोग्राम तक वजन को आसानी से उठा सकता है। हाथी के मुँह में कुल 24 दांत होते हैं और उसकी सूंड के दोनों तरफ दो लंबे और नुकीले सफ़ेद दांत भी होते हैं।

भारत में हाथी कई जगह पाए जाते है जैसे असम, मैसूर, त्रिपुरा आदि क्षेत्रों में पाया जाता है, इसके अलावा यह विदेशों में सैलोन, अफ्रीका और बर्मा के जंगलों में पाए जाते हैं। यह अपने पूरे जीवन के साथ ही मृत्यु के पश्चात भी मानवता के लिए काफी उपयोगी जीव माना जाता है। इसके शरीर के बहुत से भाग पूरे संसार में बहुमूल्य चीजों को बनाने में प्रयोग किए जाते हैं। हाथी की हड्डियाँ और इसके दाँतों का उपयोग ब्रश, चाकू के हैडल बनाने, कंघी, चूड़ियाँ और फैंसी चीजों सहित अन्य बहुत से कार्यों में प्रयोग किया जाता है।

हाथी के कुछ तथ्य

  • हाथी पृथ्वी पर पाया जाने वाला सबसे बड़ा जानवर है।
  • जीवनकाल लगभग 100 वर्ष का होता है लेकिन वर्तमान में प्रदूषण और भोजन की कमी के कारण इसका जीवनकाल कम ही रहता है।
  • हाथी एक दिन में 16 घंटे केवल भोजन खाने में ही व्यतीत करता है और यह केवल 4 घंटे ही होता है।
  • नर हाथी के दो बाहरी सफेद दातों प्रतिवर्ष 7 इंच तक बढ़ते है।
  • इसकी ऊंचाई लगभग 10 फुट होती है अभी तक सबसे अधिक ऊंचाई 13 फीट दर्ज की गई है।
  • हाथी की इतने भारी-भरकम शरीर होने के बाद भी यह पानी में आसानी से तैराकी कर सकता है।
  • एक व्यस्क हाथी एक दिन में 150 किलो से भी अधिक भोजन ग्रहण कर लेता है।
  • मादा हाथी 4 साल में एक बार ही गर्भ धारण करती है और 22 महीने के बाद एक बच्चे को जन्म देती है।
  • हाथी अपने आप को दर्पण में देखकर पहचान सकते है।

निष्कर्ष

हाथी एक शांत स्वभाव का जीव माना जाता है, हालांकि चिढ़ाने और परेशान करने पर यह गुस्सैल और खतरनाक हो जाता है, गुस्सा आने पर यह लोगों की जान तक ले सकता है। हाथी अपनी बुद्धिमान और वफादारी के लिए जाना जाता है, क्योंकि यह प्रशिक्षण के बाद अपनी देखरेख करने वालों के सभी संकेतों को भी समझता है।

में आशा करता हु की आपको ये हाथी पर निबंध जरूर पसंद आया होगा।

Leave a Comment